प्रदेश अध्यक्ष की चुनौती हिंसक आंदोलन के लिए तैयार रहे सरकार

छात्र संगठन DASFI की सरकार को चेतावनी
"गर नही हुई सुनवाई तो आंदोलन होगा हिंसक"
गांव भाटला में पीड़ितों को न्याय दिलवाने की मुहिम में डॉ अम्बेडकर स्टूडेंट फ्रंट ऑफ़ इंडिया (DASFI) के सदस्यों की भूख हड़ताल आज चौथे दिन में प्रवेश कर गई है । शाशन प्रशाशन ने अभी तक कोई सुध नही ली है ।भूख हड़ताल पर बैठे सदस्यों की तबियत खराब हो रही है ।विक्रम अटल जी की तबियत खराब हो गई ।मनोज अठवाल जी की तबियत भी धीरे धीरे खराब हो रही है ।गांव भाटला के पीडित दलितों की न्याय की मांग में डॉ आंबेडकर स्टूडेंट फ्रंट ऑफ़ इंडिया दोनों पदाधिकारी प्रदेश महासचिव हरियाणा मनोज अठवाल जी व् CDLU सिरसा विश्वविधालय के पूर्व अधयक्ष विक्रम अटल जी न्याय न मिलने तक कुछ भी , किसी भी तरह का कोई इलाज नही लेंगे।अगर प्रशाशन ने जबर्दस्ती की ये साथी पानी भी छोड़ देंगे ।डॉ आंबेडकर स्टूडेंट फ्रंट ऑफ़ इंडिया का प्रदेश अध्यक्ष होने के नाते शासन प्रशाशन को आग्रह व् अंतिम चेतावनी देता हूं कि हमारे भूख हड़ताल पर बैठे पदाधिकारी महासचिव मनोज अठवाल जी व् CDLU सिरसा विश्वविधायल के पूर्व अध्य्क्ष विक्रम अटल जी को कुछ भी हुआ तो छात्र संगठन पुरे प्रदेश के कॉलेज -यूनिवर्सटी में अपनी टीम को उग्र व् हिंसक प्रदर्शन करने से रोक नही पाएगा व् भाटला गांव के पीडितो को भी हिंसक होने से नही रोक पाएगा ।शाशन प्रशाशन समय रहते भाटला प्रकरण पीडितो को न्याय दें अन्यथा अंजाम भुगतने के लिये तैयार रहे
-जारीकर्ता -
राजबीर सोरखी
प्रदेश अध्यक्ष हरियाणा
डॉ० अम्बेडकर स्टूडैंट फ्रंट ऑफ़ इण्डिया (रजि0)
www.dasfi.in