DASFI रजि. ने प्रधानमंत्री की शवयात्रा निकालकर फूँका पुतला

*डॉ अम्बेडकर स्टूडैंट फ्रंट ऑफ़ इण्डिया ने निकाली शव यात्र*
*गुस्साए दलित समाज के लोगों ने सरकार के विरोध में की जमकर नारेबाजी, प्रधानमंत्री का फूंका पुतला।*
11जुलाई ,17
 हांसी (हिसार)
गावँ भाटला में हुए दलित उत्पीड़न को लेकर 5वें दिन भी धरना जारी रहा परन्तु प्रशाशन ने कोई सुनवाई नही की तो क्षुब्ध होकर डॉ० अम्बेडकर स्टूडैंट फ्रंट ऑफ़ इण्डिया द्वारा प्रधानमन्त्री की शव यात्रा निकली गई।
गत दिनों भाटला गांव में 15 जून को हमारे दलित समुदाय के लोगो का सामाजिक बहिष्कार के विरोध में और सभी आरोपियों की गिरफ्तारी की मांग के लिये और जुल्म के खिलाफ डॉ० अम्बेडकर स्टूडैंट फ्रंट ऑफ़ इण्डिया और अन्य सामाजिक संघठनो द्वारा धरना प्रदर्शन जारी है । डा० अम्बेडकर स्टूडैंट फ्रंट ऑफ़ इण्डिया के महासचिव मनोज अठवाल जी व् विक्रम अटल जी गत 3 दिनों से भूख हड़ताल पर भी हैं।परन्तु अभी तक पुलिश प्रशाशन और निकम्मी सरकारें चुपी साधे हुए है।
प्रशासन को दलितों के प्रति, पीडितो के प्रति कोई सहानुभूति नही है । प्रशाशन अभी तक ना आरोपितों को गिरफ्तार कर रहा है और ना ही आंदोलनकारी साथियो की मांगों को पूरा कर रहा है इसी बात पर गुस्साए दलित समाज के लोगो ने डॉ० अम्बेडकर स्टूडैंट फ्रंट ऑफ़ इण्डिया के बैनर तले प्रधानमन्त्री नरेंद्र मोदी की शव यात्रा निकाल कर विरोध जताया और डॉ०मनोज अठवाल व् विक्रम अटल ने प्रधानमन्त्री नरेंद्र मोदी का पुतले को मुखाग्नि दी हरियाणा सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की गई। प्रदर्शन का नेतृत्व कर रहे डॉ० अम्बेडकर स्टूडैंट फ्रंट ऑफ़ इण्डिया के प्रदेश अध्यक्ष राजबीर सोरखी ने कहा की सरकार ने वास्तव में दलित विरोधी होने का परिचय दे दिया है ।जब तक प्रशाशन भाटला गावँ के पीड़ित परिवारों की मांग नही मानता और आरोपियों को गिरफ्तार नही किया जाता तब उनका संघर्ष यूँही जारी रहेगा। सोरखी जी ने कहा की यदि प्रशाशन और सरकार यूँही नजरअंदाज करते रहे तो डॉ० अम्बेडकर स्टूडैंट फ्रंट ऑफ़ इण्डिया राज्य स्तर पर बड़े आंदोलन की तैयारी करेगा। इस मोके पर डास्फी कार्यकर्ता, गावँ भाटला के पुरुष, महिलाये , बच्चे, व् अन्य सामाजिक संगठनो के बुद्धिजीवी साथी मौजूद रहे।
✍🏻रिपोर्टिंग ✍🏻
रमेश रत्न बौद्ध
प्रदेश प्रैस प्रवक्ता
#DASFI
www.dasfi.in