भीमा कोरेगांव की घटना के विरोध में उतरा DASFI

आज दिनांक 6/1/2018 को डा. अम्बेडकर स्टूड़ेंट फ्रंट ऑफ़ इंडिया (रजि.) के बैनर तले कानपुर देहात जिलाधिकारी कार्यालय में DASFI जिला इकाई की टीम ने राष्ट्रपति सम्बोधित जिलाधिकारी को ज्ञापन सौपा।
संगठन के जिलाध्यक्ष सतेन्द्र संख़वार ने बताया की 1जनवरी 1818 में भीमा कोरेगांव में 500महार(दलित) और 28000पेशवाओ(ब्राह्मण) के बीच जाति संघर्ष हुआ जिसमें महारो की जीत हुई और उस जीत को उस दिन से 1 जनवरी को देश के दलित शौर्य दिवस के तौर पर लगातार मानाता आ रहा है ,वहा उपस्थिति विजय सतंभ पर हर वर्ष कार्यकर्म होते हैं ,शौर्य दिवस की 200 वीं वर्षगाठ पर 1जनवरी 2018 को हो रहे कार्यक्रम में दलित वर्ग के लोग लाखो की संख्या में उपसिस्थ थे ! वहा चल रहे कार्यकर्म में उच्च वर्ग की ब्रह्मांवादियो ने साजिश के तहत पुर्व योजनानुसार दलितो पर हमला कर दिया ज़िसमे एक दलित युवक की जान चली गई और काफी लोग घायल हो गये ! ड़ा.अम्बेडकर स्टूड़ेंट फ्रंट ऑफ़ इंडिया (रजी.) की प्रदेश कार्यकारणी ने मामले की गंभीरता को समझते हूए अस्मिक बैठक में प्रदेश अध्यक्ष प्रदीप गौतम ने पुरे प्रदेश में प्रशासन को इसके विरोध में अवगत कराने का निर्णय लिया और जिला उपायुक्त के माध्यम से प्रसासन को ग्यापन भेज कर उपरोकत घटना के दोसियो को तुरंत प्रभाव से गिरफ्तार करने की माँग को ,इस घटना को दलित समाज की असीमा पर हमला मानते हूए छात्र संगठन प्रसाशान व सरकार को आग्रह करता है कि अगर इस मामले पर तुरंत कार्यवाही नहीं की गई तो छात्र संगठन पुरजोर प्रदर्शन को विवश होगा ! उपायुक्त महोदय को ग्यापन देते समय DASFI के समस्त साथी व अन्य लोग मौजूद रहे।
जय भीम नमो बुद्धाय 
जय मान्यवर कांशीराम

रिपोर्टिंग BY
सतेन्द्र संख़वार
DASFI(R)
जिलाध्यक्ष- कानपुर देहात
www.dasfi.in
नेशनल हेल्पलाइन-8272020021